logo logo  

वि दे ह 

प्रथम मैथिली पाक्षिक ई पत्रिका

मानुषीमिह संस्कृताम्

ISSN 2229-547X VIDEHA

विदेह नूतन अंक बालानां कृते

विदेह

मैथिली साहित्य आन्दोलन

Home ]

India Flag Nepal Flag

(c)2004-2018. सर्वाधिकार लेखकाधीन आ जतय लेखकक नाम नहि अछि ततय संपादकाधीन।

 

वि  दे  ह विदेह Videha বিদেহ http://www.videha.co.in  विदेह प्रथम मैथिली पाक्षिक ई पत्रिका Videha Ist Maithili Fortnightly e Magazine  विदेह प्रथम मैथिली पाक्षिक ई पत्रिका नव अंक देखबाक लेल पृष्ठ सभकेँ रिफ्रेश कए देखू।

 

विदेह मैथिली मानक भाषा आ मैथिली भाषा सम्पादन पाठ्यक्रम

भाषापाक

राजेश मोहन झा "गुंजन"

गाछक गोहारि
(विश्व पर्यावरण दिवस पर)
 

प्राण वायु संग ममता आंचर
छांह रूप मे दैत छी
कहू बदला मनुक्ख अहां सँ
हम किछु मांगैत छी?
हाथ काटि चूल्हि जरयलहुं
पात काटि क' चार छरैलहुं
एतबहु पर संतोष नहि जे
चढि क' शीष काटैत छी।
देखू धरती केर रूप बदलि गेल
सनीर सरोवर सूखि गेल
जीवन जल बून्नी हाट बिकाय
"शुद्ध जल" कीनि पीबैत छी।
बाबा सिनेहक रोपल छलहुं
सूखि गेल काया वृद्ध भेलहुं
अहाँक नेना केर मुस्कि देखि
मरि मरि हम जीबैत छी।
आबहु सुधरि जाऊ हे मानव
गाछ रोपल जाऊ हे मानव
विलोपित वोन बरखा नहि होयत
एते त' अहूं बूझैत छी,
हे सुनू एतबहि हम चाहैत छी,।।
*******
राजेश मोहन झा "गुंजन"

 

ऐ रचनापर अपन मंतव्य editorial.staff.videha@gmail.com पर पठाउ।